असम, 29दिसंबर, 2020

असम में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर नेताओं के पार्टी अदला-बदली करने का सिलसिला शुरू हो गया है। मंगलवार को कांग्रेस से निकाले गए विधायक राजदीप गोवाला और अजंता नेग ने भाजपा का दामन थाम लिया। दोनों ही नेताओं ने गुवाहाटी में राज्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली।

कांग्रेस में कार्यकर्ताओं की नहीं है कदर- अजंता नेग

आपको बता दें कि राजदीप गोवाला और अजंता नेग को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कांग्रेस से निष्कासित किया गया था। वहीं बीजेपी की सदस्यता लेने के बाद दोनों नेताओं ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। अजंता नेग ने कहा कि कांग्रेस अनुशासनहीन पार्टी बन चुकी है, जहां ना तो अनुशासन बचा है और ना ही पार्टी की कोई दिशा। अजंता नेग ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय स्तर के नेताओं को जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं की बिल्कुल भी फिकर नहीं है। वहीं वहीं राजदीप गोवाला ने कहा, ‘कांग्रेस एक बिना विजय वाली पार्टी है।’

राजदीप गोवाला ने की थी अमित शाह से मुलाकात