देहरादून, 15 सितम्बर 2021

उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों को देखते हुए आम आदमी पार्टी अपने संगठन को मज़बूत करने में जुट गई है. आप के खेमे में चुनावी माहौल के चलते मंगलवार का दिन गहमागहमी भरा रहा. पहले प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर ने पद से इस्तीफा दे दिया और कहा कि वो अब एक पार्टी कार्यकर्ता के तौर पर काम करेंगे. तो थोड़ी ही देर बाद प्रदेश में आप के प्रभावी नेता कर्नल अजय कोठियाल ने नए अध्यक्षों के नामों के साथ ही विधानसभा चुनाव कमान संभालने वाले अन्य नेताओं की नियुक्ति का ऐलान भी कर दिया. यह पूरा मामला जानिए और यह भी कि कलेर के इस्तीफे को किस तरह समझा जाना चाहिए.

आप ने कैसे बनाई अपनी चुनावी टीम?
कर्नल कोठियाल ने मंगलवार को बड़ी घोषणा करते हुए गढ़वाल, कुमाऊं और तराई क्षेत्र से तीन कार्यकारी अध्यक्षों की नियुक्ति की घोषणा के साथ ही आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कैंपेन कमेटी के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के नाम का भी खुलासा किया. भूपेश उपाध्याय को कुमाऊं, पूर्व आईपीएस अनन्त राम चौहान को गढ़वाल और प्रेम सिंह राठौर को तराई इलाकों के लिए कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने का ऐलान किया गया.

इसके साथ ही विधानसभा चुनाव कैंपेन कमेटी की भी घोषणा करते हुए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की नियुक्ति की. प्रदेश के दो पार्टी उपाध्यक्षों को यह जिम्मेदारी दी गई. दीपक बाली को विधानसभा चुनाव कैंपेन कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया जबकि बसंत कुमार को कैंपेन कमेटी का उपाध्यक्ष. इस ऐलान के साथ ही पार्टी ने कहा, ‘पार्टी ऐसे लोगों को ही जगह देगी, जो लोग नवनिर्माण की सोच रखते हों और जो पार्टी के 3 सी के फाॅर्मूले पर फिट बैठते हों.’ बता दें कि कुछ ही हफ्तों पहले कांग्रेस ने भी इसी तर्ज़ पर अपनी चुनावी टीम बनाई थी.

कलेर के इस्तीफे का मतलब?
आप की नई चुनावी टीम की घोषणा से पहले कलेर ने प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफे की घोषणा की तो साफ हो गया कि आप नए सिरे से चुनावी टीम बनाने जा रही है. जब कलेर के भविष्य को लेकर चर्चा हुई तो बात साफ हुई कि वो चुनाव लड़ने के लिए आप के महत्वपूर्ण खिलाड़ी होंगे. उन्होंने कहा, ‘पार्टी ने अब तक जो सम्मान दिया है, उसके लिए आभारी रहेूंगा. अब अपनी ही विधानसभा में काम करूंगा.’ आप के मुताबिक आगामी चुनाव में सीएम धामी के खिलाफ कलेर चुनावी ताल ठोकेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here