हरिद्वार, 19 जुलाई 2021

पावन नगरी हरिद्वार ड्राई एरिया होने के बावजूद धर्मनगरी हरिद्वार में शराब, स्मैक जैसे नशे के मामले लगातार सामने आते रहते हैं। “हमारा संकल्प नशा मुक्त हरिद्वार” संस्था से जुड़े युवकों ने हरकी पौड़ी ब्रह्मकुंड में संकल्प लिया कि वो हरिद्वार को नशामुक्त करके ही दम लेंगे। इस दौरान माँ गँगा से कामना भी की गई कि माँ गंगा शासन-प्रशासन को भी सद्बुद्धि दे कि वो इस बुराई को जड़ से मिटाने की दिशा में कार्य करें। संस्था से जुड़े युवक याज्ञिक वर्मा ने कहा कि हरिद्वार की युवा पीढ़ी नशे की लत में अपना भविष्य खराब करती जा रही है, कहीं ना कहीं शासन-प्रशासन की लापरवाही भी इसका एक बड़ा कारण है।आज उन्होंने माँ गँगा से यही कामना की है कि माँ गँगा उनके हरिद्वार को नशामुक्त करें और इस पावन तीर्थ की मर्यादा को बनाये रखे। वहीं समाजसेवी अदित्य गौड़ ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्व हरिद्वार की गली-गली और मोहल्ले में जाकर नशे के रूप में मौत बांटने का काम कर रहे है, उन्होंने संकल्प लिया है कि जब तक उनका हरिद्वार नशामुक्त नहीं हो जाता तब तक वो इस बुराई के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगे।