जयपुर, 11मई 2021

विदेशों से मंगाए जा रहे ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर की दूसरी खेप में रुस से 640 ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगलवार को जयपुर पहुंच गए हैं। इससे पहले रुस से ही शनिवार को पहली खेप में एक सौ ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में आ गए थे। रुस से 1250 ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगाए जा रहे हैं जिसमें से शेष ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 16 मई तक जयपुर पहुंच जाएंगे। रुस से 1250 के अतिरिक्त भी और ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगवाए जाने के लिए प्रयास जारी हैं।
चीन से भी इसी माह 6900 ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटरों की खेप जयपुर पहुंच रही है।
गौरतलब है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते चिकित्सालयों में आक्सीजन सिलेण्डरों की देशव्यापी कमी के बावजूद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आगे बढ़कर कदम उठाते हुए विदेशों से सीधे संपर्क व समन्वय बनाकर ऑक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगाने के निर्देश दिए। इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 30 अप्रेल को अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस एवं पेट्रोलियम डाॅ. सुबोध अग्रवाल की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय कोर ग्रुप का गठन किया।
एसीएस माइंस डाॅ. सुबोध अग्रवाल ने मंगलवार को सचिवालय में उच्च स्तरीय कोर ग्रुप की बैठक में विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने बताया कि चीन से 6900 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 25 मई तक आने की संभावना है। इस तरह रुस और चीन से ही 8150 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर 25 मई तक जयपुर आ जाएंगे। उन्होंने बताया कि रुस में भारत के एंबेसेडर डीबी वेंकटेश वर्मा और फर्स्ट सेकेट्री ट्रेड असीम वोहरा के सहयोग व समन्वय से रुस से 1250 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर तत्काल प्राप्त हो सके हैं। इसके अतिरिक्त रुस से और आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मंगवाए जाने के प्रयास जारी है।