Election Results 2022: यूपी से गोवा तक…कहां किस पार्टी को मिली कितनी सीटें, जानें पूरी डिटेल

328

Election Results 2022: पांच राज्यों पंजाब, उत्तर प्रदेश, गोवा, उत्तराखंड और मणिपुर के विधानसभा चुनाव नतीजे घोषित हो गये हैं। पंजाब में जहां आम आदमी पार्टी को बहुमत मिला है तो वहीं बाकी चार राज्यों में भाजपा ने फिर से वापसी की है। आइए जानते हैं कि 10 मार्च को घोषित हुए नतीजों में किस राज्य में किस पार्टी को कितनी सीटें मिलीं।

पंजाब

पंजाब में 2022 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। सूबे की 117 विधानसभा सीटों में से उसे कुल 92 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं सत्ताधारी कांग्रेस को 18 सीटें मिली हैं। इसके अलावा शिरोमणि अकाली दल को 3, भाजपा को 2, बसपा को 1 और एक सीट निर्दलीय के खाते में गई है।

पार्टी सीटें
आम आदमी पार्टी(AAP) 92
बहुजन समाज पार्टी(BSP) 1
भारतीय जनता पार्टी(BJP) 2
कांग्रेस 18
शिरोमणि अकाली दल 3
निर्दलीय 1

गोवा

इस बार गोवा में फिर से भाजपा ने सत्ता में वापसी की है। बता दें कि 40 विधानसभा सीटों में से भाजपा को 20 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं कांग्रेस को 11 सीटें मिली हैं।

पार्टी सीटें
भाजपा 20
कांग्रेस 11
आप 2
जीएफपी 1
महाराष्ट्रवादी गोमंतक 2
RGP 1
निर्दलीय 3

मणिपुर

मणिपुर में विधानसभा की 60 सीटें हैं। जिसमें बहुमत के लिए किसी भी दल 31 सीटें चाहिए होती हैं। वहीं भाजपा ने इस बार 32 सीटें जीती हैं। कांग्रेस ने इस चुनाव में महज 5 सीटें हासिल की हैं।

पार्टी सीटें
भाजपा 32
कांग्रेस 5
जदयू 6
एनपीएफ 5
एनपीपी 7
Kuki People’s Alliance 2
निर्दलीय 3

उत्तराखंड

70 विधानसभा वाले उत्तराखंड में भी भाजपा को पूर्ण बहुमत मिला है। इस बार उसे 47 सीटें मिली है। वहीं कांग्रेस का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है और उसने 19 सीटें जीती हैं।

पार्टी सीटें
भाजपा 47
कांग्रेस 19
बसपा 2
निर्दलीय 2

उत्तर प्रदेश

403 विधानसभा सीटों वाली यूपी में भाजपा का परचम एक बार फिर से लहराया है। हालांकि इस बार उसकी सीटें 2017 के मुकाबले कम आई हैं लेकिन सत्ता हासिल करने के लिए जरूरी सीटें उसे मिल गई है।

बता दें कि भाजपा ने इस चुनाव में अकेले दमपर 255 सीटें हासिल की है। वहीं भाजपा गठबंधन की बात करें तो यह आकंड़ा 273 पर पहुंच जाता है।

पार्टी सीटें
भाजपा 255
सपा 111
बसपा 1
कांग्रेस 2
अपना दल 12
निषाद पार्टी 6
जनसत्ता दल लोकतांत्रिक 2
आरएलडी 8
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी 6

इस चुनाव में भाजपा के निषाद पार्टी, अपना दल का गठबंधन है। वहीं समाजवादी पार्टी का सुभासपा और आरएलडी के साथ गठबंधन रहा। वहीं असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM की बात करें तो इस चुनाव ओवैसी ने 100 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। जिसमें से एक भी प्रत्याशी जीत नहीं सका है। अधिकतर उम्मीदवार तो 5 हजार वोटों के आंकड़े को पार नहीं कर पाए। चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक एआईएमआईएम को 0.43 फीसदी वोट प्राप्त हुए।

वहीं 2017 विधानसभाव चुनाव में ओवैसी ने 38 सीटों पर चुनाव लड़ा था। जिसमें से 37 सीटों पर AIMIM उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी।

गौरतलब है कि करीब 37 साल बाद यूपी में किसी दल ने लगातार दोबारा सत्ता में वापसी की है। दरअसल यूपी में 37 साल में कोई सीएम दोबारा नहीं बना था। इससे पहले 1985 में कांग्रेस पार्टी के मुख्‍यमंत्री जीबी पंत मुख्‍यमंत्री के रूप में लगातार दूसरी बार सत्ता में आए थे।