नई दिल्ली, 29जनवरी 2021

देश की राजधानी दिल्‍ली में इजरायली दूतावास के पास शुक्रवार शाम को हुए कम तीव्रता वाले IED विस्‍फोट से कुछ देर के लिए अफरातफरी की स्थिति बन गई. विस्‍फोट स्‍थल विजय चौक से करीब डेढ़ किमी की दूरी पर है जहां बेहद कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच बीटिंग रिट्रीट समारोह के चलते राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, उपराष्‍ट्रपति और सरकार के कई वरिष्‍ठ अधिकारी मौजूद थे. डीसीपी सेंट्रल सिंघल के अनुसार, यह मामूली विस्‍फोट था और कोई भी घायल नहीं हुआ. कुछ कारों को विस्‍फोट के कारण नुकसान पहुंचा . सीआईएसएस (Central Industrial Security Force) ने कहा है किइजरायली दूतावास के नजदीक हुए इस विस्‍फोट के मद्देनजर सभी एयरपोर्ट, प्रमुख संस्‍थानों और सरकारी बिल्डिंगों के लिए अलर्ट जारी किया गया है और सुरक्षा बढ़ाई गई है.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि विस्‍फोटक, इसके IED होने का संदेह है, को प्‍लास्टिक के बैग में लपेटकर फर्श पर छोड़ा गया था जहां इसमें हुए विस्‍फोट से नजदीक खड़ी चार-पांच कारों को नुकसान पहुंचा. शुरुआती जांच में सामने आया है कि IED में बॉल बेयरिंग का इस्‍तेमाल किया गया था.जानकारी के अनुसार, फायर डिपाटमेंट को शाम 5:11 बजे अब्‍दुल कलाम रोड पर विस्‍फोट की सूचना मिली. क्षेत्र में इस समय बड़ी संख्‍या में पुलिसबल पर मौजूद है और एरिया की घेराबंदी कर ली गई है.

सूचना मिलते ही तीन फायरटेंडर और दिल्‍ली पुलिस मौके पर पहुंची. विस्‍फोट के कारण नजदीक के चार पहिया वाहनों के शीशे टूट गए . शुरुआती जांच से ऐसा लगता है कि सनसनी पैदा करने के लिए इस विस्‍फोट को अंजाम दिया गया. राहत की बात यह रही कि इससे न कोई घायल और न ही संपत्ति को नुकसान पहुंचा है.गौरतलब है कि फरवरी 2012 में हुए विस्‍फोट में इजरायली राजदूत की कार को नुकसान पहुंचा था.केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर और खुफिया एजेंसियों के प्रमुख के साथ देश की राजधानी में सुरक्षा व्‍यवस्‍था की समीक्षा के कुछ दिन ही यह विस्‍फोट हुआ है. देश में बढ़ाई गई सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच हुए इस विस्‍फोट ने शीर्ष अफसरों की चिंता को बड़ा दिया है. इजरायली दूतावास के नजदीक हुए इस विस्‍फोट की खुफिया एजेंसियां गहराई से जांच कर रही हैं.