कांथी, 24 मार्च 2021

पश्चिम बंगाल के कांथी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनसभा को संबोधित कर रही है। उन्होंने कहा आज़ादी की लड़ाई के हर नायक-नायिका को सम्मान देने के लिए पूरा देश आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। आज़ादी के 75 साल के उत्सव में पश्चिम बंगाल का विशेष महत्व है। आज़ादी की लड़ाई में दिए गए हर योगदान को भावी पीढ़ी तक पहुंचाना भाजपा सरकार की प्राथमिकता है।

पीएम मोदी ने कहा, दीदी आजकल मेदिनीपुर में आकर बार-बार बहाने बना रही हैं, दीदी उन बहनों और परिवारों को जवाब नहीं दे पाई जिनको पहले अंफान ने तबाह किया और फिर तृणमूल के टोलाबाजों ने लूट लिया। जब जरूरत होती है तो तब दीदी दिखती नहीं। लेकिन जब चुनाव आता है तो दीदी कहती हैं- सरकार दुआरे-दुआरे। यही इनका खैला है। पश्चिम बंगाल का बच्चा-बच्चा आपका खैला समझ गया है और इसलिए 2 मई को पश्चिम बंगाल दीदी को द्वार दिखाएगा।

बंगाल का किसान भूल नहीं सकता कि कैसे दीदी ने उसके साथ निर्ममता दिखाई, दीदी ने आपको ​PM किसान सम्मान निधि से वंचित रखा। बंगाल के किसान मोदी के शब्द लिखकर रखें, 2 मई को बंगाल के विकास के बीच आ रही दीवारें टूट जाएंगी। किसानों के हक के 3 साल के पैसे उनके खाते में जमा करके रहूंगा।

बंगाल में बीजेपी की जो राज्य सरकार आप बनाने जा रहे हैं, उसमें मुख्यमंत्री की ज़िम्मेदारी इसी मिट्टी की संतान की होगी। दीदी के राज में यहां हिंसा और बम धमाकों की खबरे आती है। धमाकों से पूरे-पूरे घर उड़ जाते हैं और दीदी की सरकार सिर्फ देखती रहती है। इस स्थिति को हमें मिलकर बदलना होगा। बंगाल को शांति चाहिए, स्थिरता चाहिए, बम-बंदूकों और हिंसा से मुक्ति चाहिए।

दीदी इस बात से बौखलाई हुई हैं ​कि बंगाल के लोग उनका खेला समझ गए हैं, इसलिए तृणमूल वाले आजकल झूठ और प्रपंच पर उतर आए हैं। दीदी आपको नंदीग्राम ने बहुत कुछ दिया अब आप नंदीग्राम के लोगों को बदनाम कर रही हो। नंदीग्राम के स्वाभिमानी लोग इस अपमान की सजा आपको इस चुनाव में जरूर देंगे।