नई दिल्ली, 4 मार्च 2021

बंगाल में वोटिंग की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। एक ओर ममता बनर्जी टीएमसी के साथ अपनी सत्ता बचाने में जुटी हैं, तो वहीं दूसरी ओर बिहार की जीत से उत्साहित बीजेपी को इस बार अच्छी सीटों के साथ सत्ता में आने की उम्मीद है। हाल ही में सीएम ममता ने हुबली में एक रैली की थी। उस दौरान उन्होंने कहा था कि ‘खेला होबे’ यानी खेल होगा। जिस पर अब बीजेपी ने पलटवार किया है।

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के मुताबिक हुबली में ममता बनर्जी ने कहा कि हम तो खेला करेंगे, खेला क्या होता है मतलब पोलिंग बूथ पर कब्जा, मतदाताओं को डराना, निष्पक्ष चुनाव न होना। ये सब खेला करने की कोशिश TMC करना चाहती है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने सारी जानकारियों से चुनाव आयोग को अवगत कराया। उन्होंने आगे कहा कि एक षड्यंत्र करते हुए 128 नगर पालिका और नगर निगम में TMC के नेताओं को प्रशासक नियुक्त कर दिया, संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। उन्होंने राजनीतिक कार्यकर्ताओं को प्रशासक बनाकर सारी नगरपालिकाओं को अपने अंडर ले रखा है। इससे लगभग 2 करोड़ लोग प्रभावित होंगे।

TMC विधायक ने भी कही खेल की बात

वहीं एक रैली को संबोधित करते हुए टीएमसी विधायक हमीदुल रहमान ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने कहा था कि जिसका नमक खाते हैं, उसे धोखा नहीं देते। चुनाव के बाद हम गद्दारों से मिलेंगे और उनके साथ खेल होगा। हम दोबारा से ममता दीदी को सीएम के रूप में देखना चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि इस महागठबंधन (कांग्रेस, लेफ्ट) को वोट देना, भाजपा को रास्ता देने के समान है। हमीदुल के इस बयान के खिलाफ भी बीजेपी ने चुनाव आयोग में शिकायत की है।