‘द कश्मीर फाइल्स’ विवाद: इजरायली राजदूत ने लापिड के बयान की निंदा की तो मैसेज मिला-“हिटलर महान थे”

71

नई दिल्ली। इजरायली फिल्म निर्माता नादव लापिड द्वारा फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को अश्लील बताए जाने की भारत में इजराइल के राजदूत नौर गिलोन ने निंदा की थी। नौर गिलोन ने लापिड की सार्वजनिक रूप से आलोचना की थी, जिसके बाद उन्हें सोशल मीडिया पर हेट मैसेज का सामना करना पड़ा है।

गिलोन ने शनिवार को ट्विटर पर मिले एक कमेंट का स्क्रीनशॉट शेयर किया। इसमें लिखा था, “हिटलर महान थे। उन्होंने तुम जैसे मैल को जला दिया। हिटलर एक महान व्यक्ति था।” गिलोन ने लिखा, “मुझे नफरत भरे कई मैसेज मिले हैं। प्रोफाइल के अनुसार नफरत भरा मैसेज भेजने वाले व्यक्ति के पास पीएचडी की डिग्री है। भले ही वह मेरे द्वारा सुरक्षा दिए जाने के लायक नहीं है फिर भी मैंने उसकी पहचान की जानकारी को हटाने का फैसला किया है।”

भारतीयों ने किया गिलोन का समर्थन
गिलोन द्वारा ट्वीट किए जाने के बाद बड़ी संख्या में भारतीयों ने उनका समर्थन किया। एक अन्य ट्वीट में गिलोन ने समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। बता दें कि भारत में इजरायल के राजदूत गिलोन ने इजरायली फिल्म निर्माता नदव लापिड द्वारा ‘द कश्मीर फाइल्स’ को एक प्रचार और अश्लील फिल्म कहने के जवाब में कहा था, “ऐतिहासिक घटनाओं का गहराई से अध्ययन करने से पहले उनके बारे में बात करना असंवेदनशील और अक्खड़पन है।”

लैपिड ने मांगी माफी
नादव लैपिड ने भारत के अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में इंटरनेशनल जूरी अध्यक्ष थे। उन्होंने विवेक अग्निहोत्री फिल्म को “vulgar” और “propaganda” कहा था। विवाद खड़ा होने पर लैपिड ने माफी मांग ली थी। लैपिड ने कहा था, “मैं किसी का अपमान नहीं करना चाहता था। मेरा उद्देश्य कभी भी लोगों या उनके रिश्तेदारों का अपमान करना नहीं था, जो पीड़ित हैं। मैं पूरी तरह से माफी मांगता हूं, अगर मेरे कथन से कोई भी कम्युनिटी आहत हुई है तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं।”