खेत से धान-गेंहू कटने पर करते थे प्रैक्टिस, अब मिली टीम इंडिया की कैप, जानें कौन हैं मुकेश कुमार-रजत पाटीदार

26

Who is Mukesh Kumar And Rajat Patidar. बंगाल के लिए शानदार गेंदबाजी करने वाले मुकेश कुमार और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के लिए शानदार बैटिंग करने वाले रजत पाटीदार को टीम इंडिया में शामिल किया गया है। रजत ने बतौर गेंदबाज करियर की शुरूआत की थी लेकिन टी20 क्रिकेट में आने के बाद वे खतरनाक बल्लेबाज के तौर पर पहचाने जाने लगे हैं। दोनों खिलाड़ियों की जर्नी प्रेरणादायी है क्योंकि वे दोनों ऐसे परिवार से आते हैं, जहां जीवनयापन की भी समस्या रही। आइए जानते हैं कौन हैं मुकेश कुमार और रजत पाटीदार…

कौन हैं मुकेश कुमार 
मूलरूप से बिहार के गोपालगंज जिले के रहने वाले मुकेश कुमार शुरूआती दिनों में खेतों में क्रिकेट खेला करते थे। उनके गांव में कोई मैदान नहीं था। मुकेश बताते हैं कि साल में दो सीजन में वे प्रैक्टिस करते थे। एक बार जब धान की फसल कट जाती थी और दूसरी बार जब गेंहूं की फसल कट जाती थी। फिर एक एक्सीडेंट हुआ जिसके बाद पिता ने उन्हें कोलकाता बुला लिया। मुकेश के पिता कोलकाता में टैक्सी चलाते हैं। कोलकाता आने के बाद मुकेश का क्रिकेट के प्रति जुनून और गहरा हो गया। उन्होंने लगातार प्रैक्टिस जारी रखी और बंगाल क्रिकेट टीम का हिस्सा बने। इसके बाद से लेकर टीम इंडिया का कैप पहनने तक मुकेश कुमार की मेहनत ने उन्हें एक शानदार खिलाड़ी के तौर पर स्थापित कर दिया। अब वे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ देश के लिए प्रदर्शन करेंगे। 

कौन हैं रजत पाटीदार
रजत पाटीदार की बात करें तो उन्होंने क्रिकेट करियर बतौर गेंदबाज शुरू किया था। उन्होंने हाल ही में खेले गए दलीप ट्राफी में कमाल का प्रदर्शन किया है। अंडर-15 क्रिकेट के समय से पाटीदार ने बैटिंग पर भी काम करना शुरू किया और घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने लगे। रजत पाटीदार पर सेलेक्टर्स की नजर तब गई जब बेंगलुरू रायल चैलेंजर्स की टीम के साथ इन्होंने बैटिंग शुरू की। टीम के लिए सिर्फ 8 मैच खेलकर 333 रन बनाने वाले पाटीदार अचानक सुर्खियों में आ गए। अब उन्हें टीम इंडिया में जगह दी गई है। यह ऐसा खिलाड़ी है, जो किसी भी वक्त मैच का रूख पलट सकता है। 

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया
शिखर धवन (कप्तान), रितुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, श्रेयस अय्यर (उप कप्तान), रजत पाटीदार, राहुल त्रिपाठी, ईशान किशन (विकेटकीपर), संजू सैमसन (विकेटकीपर), शाहबाज अहमद, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, रवि बिश्नोई, मुकेश कुमार, आवेश खान, मोहम्मद सिराज और दीपक चाहर।