अयोध्या, 24जनवरी 2021

उत्तर प्रदेश के अयोध्या (Ayodhya news) में सुप्रीम कोर्ट से मुस्लिम समाज को मिली जमीन पर 26 जनवरी को मस्जिद का शिलान्यास होगा. इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन धन्नीपुर ट्रस्ट 5 एकड़ भूमि पर वृक्षारोपण और ध्वजारोहण कर मस्जिद निर्माण कार्य की शुरुआत करेगा. धन्नीपुर मस्जिद के लिए बने ट्रस्ट के सदस्यों ने मस्जिद (Dhannipur Mosque) की जमीन का मुआयना भी किया. ट्रस्ट के सचिव अतहर हुसैन ने कहा कि मस्जिद की शुरुआत 26 जनवरी को 9 ट्रस्टी द्वारा 9 पौधे लगाकर की जाएगी. गणतंत्र दिवस के दिन सुबह 8:30 बजे मस्जिद की जमीन पर ध्वजारोहण किया जाएगा और साथ ही वृक्षारोपण भी होगा.

मस्जिद निर्माण के लिए जमीन की सोल टेस्टिंग के लिए टीम 26 जनवरी को अयोध्या पहुंचेगी और मस्जिद की मिट्टी की परीक्षण के लिए मिट्टी को लैब ले जाएगी. मस्जिद निर्माण के लिए ट्रस्ट अयोध्या विकास प्राधिकरण में नक्शा ऑफलाइन दाखिल करेगा और जब नक्शे का स्वीकृति मिल जाएगी व सोल टेस्टिंग की रिपोर्ट आ जाएगी उसके बाद मस्जिद निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा. ट्रस्ट के सचिव अतर हुसैन ने बताया कि अभी ट्रस्ट में 9 सदस्य हैं. सदस्यो की संख्या भी बढ़ाई जाएगी आने वाले समय में ट्रस्ट के सदस्यों की संख्या 15 होगी.

इनको भी मिलेगी ट्रस्ट में जगह

मस्जिद के लिए बने ट्रस्ट में अयोध्या बाबरी मस्जिद प्रकरण से जुड़े पक्षकारों को भी आने वाले समय में जगह मिल सकती है, लेकिन इसके लिए उनको ट्रस्ट के अनुसार विकासवादी सोच रखनी होगी. 26 जनवरी के दिन 9 ट्रस्टियों द्वारा फलदार और छायादार पौध लगाए जाएंगे, लेकिन आने वाले समय में पर्यावरण के संरक्षण को देखते हुए धन्नीपुर की मस्जिद की जमीन पर ऑस्ट्रेलिया, अमेज़न और विश्व के अन्य जगहों से मंगाए गए ऑक्सीजन देने वाले पेड़ों को लगाकर देश में पर्यावरण संरक्षण का एक बड़ा मैसेज देने की कोशिश की जाएगी.

5 एकड़ भूमि में धनीपुर की इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन मस्जिद में जहां एक और मस्जिद का निर्माण किया जाएगा. वहीं 200 बेड का सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का निर्माण किया जाएगा, साथ ही इंडो इस्लामिक कल्चरल रिसर्च सेंटर और एक बड़ा म्यूजियम बनाया जाएगा. एक बड़ी लाइब्रेरी बनाई जाएगी कम्युनिटी किचन के तहत 1000 लोगों को फ्री खाना उपलब्ध हो इसकी भी व्यवस्था की जाएगी.