बड़ी ख़बरें

मुंबईः रिलायंस एंटरटेनमेंट समेत 4 कंपनियों पर आयकर विभाग के छापे                           आंदोलन का समर्थन करने पर हो रही IT की कार्रवाईः संयुक्त किसान मोर्चा                                 असम सरकार ने कक्षा 1 से 9 तक के छात्रों को अगली उच्च कक्षाओं में प्रमोट करने का आदेश दिया                             पुणेः आयकर विभाग की टीम अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू से कर रही पूछताछ                                 मुंबईः छापेमारी के बाद अनुराग कश्यप के घर से निकली IT की टीम                                   भारत बायोटेक ने तीसरे चरण के ट्रायल का परिणाम जारी किया, कौवेक्सीन 83 फीसदी प्रभावी                                   मुंबईः स्टेडियम का नाम बदलने से अब हम मैच नहीं हारेंगेः उद्धव ठाकरे                                     दिल्लीः विदेश मंत्री एस जयशंकर कल बांग्लादेश के दौरे पर ढाका जाएंगे                                   लखनऊः सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष और उनके साले के खिलाफ केस दर्ज                                     मुंबईः कांग्रेस ने आयकर विभाग की कार्रवाई पर सवाल उठाए                       रवांडाः राजधानी किगाली पहुंची मेक इन इंडिया COVID-19 वैक्सीन                                     MCD उपचुनाव में हार पर बोले दिल्ली BJP अध्यक्ष- चुनाव हारे हैं, हौसला नहीं, 2022 में फिर जीतेंगे                                     कर्नाटक: यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद मंत्री रमेश जारकीहोली ने दिया पद से इस्तीफा                                       राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आरआर अस्पताल में ली कोरोना वैक्सीन की पहली डोज                               मधु मनटेना, तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप के घर पहुंचा IT विभाग, दफ्तरों में भी तलाशी                                     पंजाब: अकाली नेता बिक्रम मजीठिया ने विधानसभा में उठाया मुख्तार अंसारी का मामला   
Home Authors Posts by admin

admin

764 POSTS 0 COMMENTS

सुदीप जैन को हटाने की टीएमसी की मांग चुनाव आयोग ने ठुकराई, कहा- चुनाव उपायुक्त पर पूरा भरोसा

0

नई दिल्ली, 5 मार्च 2021

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ दल टीएमसी ने अब राज्य के प्रभारी उपचुनाव आयुक्त सुदीप जैन को हटाने की मांग की है। अब चुनाव आयोग ने टीएमसी की मांग पर बयान जारी किया है। चुनाव आयोग ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के अनुरोध को खारिज कर दिया है। पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को सुदीप जैन को हटाने की मांग करते हुए आरोप लगाए कि वह इसके प्रति पूर्वाग्रह से ग्रसित हैं और संघीय ढांचे के मानकों को तोड़ रहे हैं।

टीएमसी के आरोपों पर चुनाव आयोग ने कहा कि इसके सभी चुनाव उपायुक्त एवं आयोग के मुख्यालय में पदस्थापित अन्य अधिकारी या क्षेत्र में काम कर रहे अधिकारी ‘भारत के संविधान के मुताबिक और चुनाव कराने के लिए तय नियमों के तहत अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं। छिटपुट अपवाद हो सकते हैं जिनमें चुनाव आयोग तुरंत सुधारात्मक कदम उठाता है। आयोग को चुनाव उपायुक्त सुदीप जैन की ईमानदारी और निष्पक्षता पर पूरा भरोसा है।

केंद्रीय चुनाव आयोग ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन कोई पहली बार नहीं है जब चुनाव अधिकारियों के खिलाफ इस तरीके के आरोप लगाए जाते रहे हैं खास तौर पर चुनावों से ठीक पहले या चुनावों के दौरान। दूसरी ओर, पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए भी आयोग ने शुक्रवार दोपहर अधिसूचना जारी कर दी है। दूसरे चरण में राज्य के चार जिलों की 30 विधानसभा सीटों के लिए वोट पड़ेंगे।

टीएमसी के राज्यसभा के सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने गुरुवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) को पत्र लिखा था। इसमें आरोप लगाया है कि सुदीप जैन का व्यवहार पक्षपातपूर्ण है और अंदेशा जताया है कि उनके निर्देश में बंगाल में निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकते हैं। इसलिए सुदीप जैन को बंगाल चुनाव के प्रभार से तुरंत हटाया जाए। रॉय ने आरोप लगाया कि पिछले संसदीय चुनाव के दौरान जैन ने कई ऐसे कदम उठाए, जो न केवल चुनाव आयोग के नियमों के खिलाफ थे। हमें उनमें कोई भरोसा नहीं है।

महाराष्ट्र पैनल ने किसानों की खुदकुशी रोकने के लिए ’10 सूत्रीय’ एजेंडा पेश किया

0

मुंबई, 5 मार्च 2021

एक कृषि पैनल ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में कृषि संकट को रोकने और राज्य में किसानों की आत्महत्याओं को समाप्त करने के उद्देश्य से 10 सूत्रीय कार्यक्रम पेश किया। वसंतराव नायक शेती स्वावलंबन मिशन (वीएनएसएसएम) के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने औपचारिक रूप से मुख्य सचिव सीताराम कुंटे को 10 सूत्रीय चार्टर सौंपा।

तिवारी ने बैठक के बाद आईएएनएस को बताया कि उनकी ओर से, कुंटे ने कृषि विभाग को प्राथमिकता के आधार पर आवश्यक उपाय शुरू करने का निर्देश दिया।

राज्य के विदर्भ, मराठवाड़ा और खानदेश क्षेत्र पिछले लगभग 25 वर्षों से एक गंभीर कृषि संकट की चपेट में हैं, जिससे हजारों कृषकों को आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ा और यह सिलसिला अब भी जारी है।

तिवारी ने कुंटे से कहा, “उपायों, सरकारों द्वारा राहत पैकेज या लगातार पांच लाख करोड़ रुपये की कर्जमाफी देने के बावजूद मूल मुद्दे अछूते हैं और किसानों की समस्याएं दूर करने के लिए इनसे निपटने की जरूरत है।”

10 सूत्रीय कार्यक्रम में शामिल हैं : राज्य इनपुट लागत में कमी और उत्पादन लागत हस्तक्षेप से निपटेगी, स्थानीय और वैश्विक बाजार की मांग के अनुसार फसल पैटर्न में बदलाव, नई कृषि ऋण नीति में क्रेडिट-साइकल की लगातार विफलता रोकना, माध्यमिक आजीविका प्रबंधन आय गतिविधि, सिंचाई, जल संरक्षण, मृदा स्वास्थ्य पुनरुद्धार के मुख्य मुद्दे, प्रभावी फसल बीमा और जलवायु परिवर्तन के मुद्दे के साथ उचित जोखिम प्रबंधन।

तिवारी ने कहा कि पिछले 25 वर्षों में अनुमानित 35,000 से अधिक किसानों, जिनमें कई महिलाएं शामिल हैं, ने आत्महत्या का सहारा लिया है क्योंकि वे लंबित ऋणों का बोझ नहीं उठा सकते थे। राज्यभर में खुदकुशी करने वाले किसान बड़ी संख्या में निराश्रित विधवाओं और अनाथों को पीछे छोड़ गए।

कश्यप, पन्नू पर छापे : आईटी विभाग ने कहा, करोड़ों का हुआ हेरफेर

0

मुंबई, 5 मार्च 2021

फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, उनके सहयोगियों और एक्ट्रेस तापसी पन्नू के परिसरों पर आयकर विभाग के छापे एवं तलाशी के दौरान जांच एजेंसी को करोड़ों रुपये के हेरफेर का पता चला है। इसके बाद कश्यप और पन्नू की मुसीबतें बढ़ गई हैं। गौरतलब है कि अनुराग कश्यप और उनके सहयोगियों ने मिलकर फैंटम फिल्म्स के नाम से प्रोडक्शन हाउस खोला था जो अब बंद हो चुका है।

आयकर विभाग ने दिल्ली, हैदराबाद, मुंबई और पुणे में फैंटम फिल्म्स से जुड़े 28 ठिकानों पर रेड मारी। इसके अलावा, अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू, विकास बहल, मधु मेंटेना और टैलेंट मैनेजमैंट कंपनी क्वान के कुछ अधिकारियों और एक अन्य टैलेंट मैंनेजमेंट कंपनी के परिसरों पर भी छापेमारी की।

आयकर विभाग ने एक बयान में कहा कि मुंबई की दो प्रमुख फिल्म निर्माण कंपनियों, एक प्रमुख अभिनेत्री और दो टैलेंट मैंनेजमेंट कंपनियों पर 3 मार्च से ही तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

बयान में कहा गया है कि मुंबई, पुणे, दिल्ली और हैदराबाद में तलाशी ली जा रही है। यह समूह मुख्य रूप से मोशन पिक्चर्स, वेब सीरीज, अभिनय, निर्देशन और अन्य कलाकारों की प्रतिभा प्रबंधन के व्यवसाय में लगा हुआ है। जिन 28 परिसरों में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है उसमें ऑफिस और आवासीय परिसर भी हैं।

बयान में यह भी कहा गया है कि तलाशी के दौरान पता चला है कि प्रतिष्ठित फिल्म प्रोडक्शन हाउस ने वास्तविक बॉक्स ऑफिस कलेक्शन की तुलना में आय के बारे में सबूतों को छिपाया। कंपनी अधिकारिक रूप से लगभग 300 करोड़ रुपये की गड़बड़ी के बारे में जानकारी नहीं दे पाई है।

आयकर विभाग ने बताया कि फिल्म निर्देशकों और शेयरधारकों के बीच प्रोडक्शन हाउस के शेयर लेन-देन में हेरफेर और कम-वैल्यूएशन से संबंधित साक्ष्यों (जिसमें लगभग 350 करोड़ रुपये का कर की चोरी हो सकती है) का पता चला है और इस बाबत जांच की जा रही है।

तापसी पन्नू के परिसर में छापेमारी पर टिप्पणी करते हुए आयकर विभाग ने कहा कि जांच में इस बात के सबूत मिले हैं कि पन्नू ने 5 करोड़ रुपये नकद में लिए। इसकी आगे की जांच जारी है।

बयान में कहा है कि प्रोड्यूसरों एवं डायरेक्टर के ‘फर्जी’ खर्चे में लगभग 20 करोड़ रुपये कर (टैक्स) का गबन हो सकता है। इसी तरह के निष्कर्ष पन्नू के मामले में भी सामने आए हैं।

आयकर विभाग ने यह भी कहा कि दो टैलेंट मैनेजमेंट कंपनियों के कार्यालय परिसर में ईमेल, व्हाट्सएप चैट, हार्ड डिस्क आदि के रूप में भारी मात्रा में डिजिटल डेटा जब्त किए गए हैं। इसकी भी जांच की जा रही है। तलाशी के दौरान 7 बैंक लॉकर भी मिले हैं।

आयकर विभाग के सूत्रों के अनुसार, पन्नू और कश्यप से पुणे में आयकर के अधिकारियों ने पूछताछ की। वहां वे एक फिल्म की शूटिंग कर रहे थे।

फैंटम फिल्म्स की स्थापना ‘विक्रमादित्य मोटवाने’ के निर्देशक अनुराग कश्यप, प्रोड्यूसर मधु मेंटेना और यूटीवी स्पॉटबॉय के पूर्व प्रमुख विकास बहल द्वारा 2011 में की गई थी। फैंटम फिल्म्स प्रोडक्शन हाउस 2018 में बंद हो गया था।

मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक से भरी मिली लावारिस SUV का मालिक मृत पाया गया

0

मुंबई, 5 मार्च 2021

रिलायंस चेयरमैन मुकेश अंबानी (Reliance Chairman Mukesh Ambani) के घर के बाहर विस्फोटक से भरी मिली लावारिस स्कोर्पियो कार (SUV) का मालिक मृत पाया गया है. इससे इस साजिश का रहस्य और गहरा गया है. एएनआई ने ठाणे पुलिस के हवाले से यह जानकारी दी है. पुलिस ने दुर्घटना के कारण मौत का केस दर्ज किया है.

एसयूवी के मालिक की लाश मुंबई में एक तट के पास पाई गई. साउथ मुंबई स्थित मुकेश अंबानी की 27 मंजिला इमारत एंटीलिया के पास उस शख्स की कार लावारिस हालत में पाई गई थी. इस कार की तलाशी के दौरान बम रोधी दस्ते को 20 जिलेटिन की छड़ें मिली थीं, जो बेहद खतरनाक विस्फोटक माना जाता है.

इस विस्फोटक सामग्री के साथ एक धमकी भरा खत भी मिला था. इसमें मुकेश अंबानी और उनकी नीता अंबानी को संबोधित करते हुए लिखा था कि इस बार इसे असंबेल नहीं किया गया है, लेकिन सावधान रहना है, अगली बार ऐसा नहीं होगा. यह लावारिस एसयूवी मिलने के अगले दिन ही पुलिस को उसके मालिक ने यह बताया था कि उसकी SUV कुछ दिनों पहले चोरी हो गई थी. कार का ये मालिक विक्रोली इलाके में रहता था. कार के अंदर कुछ नंबर प्लेटें भी मिली थीं.

कार के अंदर कुछ नंबर प्लेटें भी मिली थीं. मुंबई पुलिस (Mumbai police) प्रवक्ता ने कहा था कि कार के अंदर जो नंबर प्लेटें मिली हैं, वे मुकेश अंबानी के सुरक्षा दस्ते में शामिल एक वाहन के नंबर से मेल खाती है.

Ind vs Eng 4th Test, Day 2 Live Cricket Score: रोहित 1 रन से अर्द्धशतक से चूके, भारत को पांचवां झटका

0

अहमदाबाद, 5 मार्च 2021

India vs England 4Th Test, Day 1: अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) में खेले जा रहे चौथे और आखिरी टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को लंच के बाद का खेल शुरू हो गया है. भारत चार विकेट गंवाकर फिलहाल दबाव की स्थिति में है और इस दबाव को हटाने की एक बड़ी जिम्मेदारी जम चुके रोहित शर्मा और लेफ्टी ऋषभ पंत पर है. इन दोनों को आखिरी विशेषज्ञ बल्लेबाज जोड़ी कहा जा सकता है.

पहले सेशन की बात करें, तो लंच से ठीक पहले अजिंक्य रहाणे के रूप में चौथा विकेट गंवाकर काफी हद तक बैकफुट पर आ गया है. रहाणे के आउट होते ही लंच का ऐलान कर दिया गया और इस समय भारत का स्कोर 4 विकेट पर 80 रन था. रहाणे आत्मविश्वास के साथ बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने अच्छे 27 रन बनाए, लेकिन लंच से ठीक पहले फिर से गेंदबाजी के लिए एंडरसन ने रहाणे के तेवर का अंत कर दिया. दूसरे दिन का पहला सेशन इंग्लैंड के नाम रहा, जिसने तीन विकेट चटकाए. रहाणे से पहले चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली पवेलियन लौटे विराट तीसरे विकेट के रूप में आउट हुए, जो बेन स्टोक्स की उठती ही गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे. भारतीय कप्तान खाता भी नहीं खोल सके और इन दो सितारा बल्लेबाजों के आउट होने से भारत दबाव में आ गया है. कोहली से पहले पुजारा के रूप में भारत ने दूसरा विकेट गंवाया. शुरुआत में सीमरों के सामने सहज दिख रहे पुजारा जैक लीच के अटैक पर आते ही थोड़े असहज दिखायी पड़े और फिर जाल में फंस गए. जैक लीच ने पुजारा को एलबीडब्ल्यू आउट किया. पुजारा ने रिव्यू का सहारा लिया, लेकिन यह बेकार गया. दूसरे छोर पर रोहित शर्मा कप्तान विराट कोहली के साथ हैं और इन दोनों को यहां से शुरुआती दो झटकों से भारत को उबारने पर काम करना होगा. पहले दिन भारत का दबदबा रहा था. इंग्लैंड को उसकी पहली पारी में 205 रन पर समेटने के बाद भारत का स्कोर पहले दिन की समाप्ति पर 1 विकेट पर 24 रन था और भारत पर इंग्लैंड का 181 रन का कर्ज था. अगर शुबमन गिल आउट न होते, तो भारत मनोवैज्ञानिक लाभ से और ज्यादा फायदे में होता.

वीरवार को पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया, जिसका फायदा उसके बल्लेबाज नहीं उठा सके जहां तक दोनों टीमों की इलेवन की बात है, तो भारत ने जसप्रीत बुमराह की जगह सिराज के रूप में सिर्फ एक बदलाव किया था. बुमराह ने पहले ही चौथे टेस्ट से निजी कारणों से नाम वापस ले लिया था. सवाल बस यही था कि भारत इलेवन में सिराज को खिलाएगा या उमेश यादव को. और टॉस के बाद इस चर्चा पर भी सिराज का नाम सामने आते ही विराम लग गया. वहीं, इग्लैंड टीम ने अपनी जारी रोटेशन पॉलिसी के तहत इलेवन में दो बदलाव किए हैं. स्टुअर्ट ब्रॉड की जगह लॉरेंस और जोफ्रा आर्चर की जगह बेस को चौथे टेस्ट के लिए इंग्लिश इलेवन में जगह दी गयी . चौथे टेस्ट के लिए दोनों देशों की इलेवन इस प्रकार हैं:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शुबमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), वॉशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन, ईशांत शर्मा और मोहम्मद सिराज

इंग्लैंड: जो. रूट (कप्तान), डोमिनिक सिबली, जैक क्राउली, जॉनी बैर्यस्टो, बेन स्टोक्स, ओली पोप, बेन फोक्स (विकेटकीपर), डेनियल लॉरेंस, डोमिनिक बेस, जैस लीच और जेम्स एंडरसन

भारतीय टीम सीरीज में 2-1 से आगे चल रही और अगर विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम अंतिम टेस्ट ड्रॉ भी करा लेती है तो जून में लार्ड्स में होने वाले फाइनल में जगह बना लेगी, जहां उसका सामना न्यूजीलैंड से होगा. इंग्लैंड की टीम फाइनल की दौड़ से बाहर हो गई है, लेकिन अगर अंतिम टेस्ट में जीत दर्ज करती है तो फिर भारत को भी खिताबी मुकाबले से बाहर कर देगी और टिम पेन की अगुआई वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम को इस मुकाबले में खेलने का मौका मिलेगा.

 

सुशांत सिंह राजपूत ड्रग्स केस : रिया चक्रवर्ती समेत 34 आरोपियों के खिलाफ 14,000 पन्नों की चार्जशीट फाइल

0

मुंबई, 5 मार्च 2021

सुशांत सिंह राजपूत ड्रग्स केस में रिया चक्रवर्ती समेत 34 आरोपियों के खिलाफ लगभग 14,000 पन्नों की चार्जशीट फाइल की गई है. मुंबई सेशंस कोर्ट की विशेष NDPS कोर्ट में चार्जशीट फाइल की गई है. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का शव पिछले साल 14 जून को उनके मुंबई स्थित घर में मिला था. पहले पहल खुदकुशी की बात से शुरू हुए मामले में बाद में आर्थिक अपराध और ड्रग्स का एंगल जुड़ गया था. केंद्रीय एंटी-ड्रग एजेंसी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो मामले में ड्रग्स लिंक की जांच कर रही है.

सुशांत सिंह की पार्टनर रही अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती पर मामले में आर्थिक अपराध, ड्रग्स सप्लाई और खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप लगा था. वो कुछ वक्त जेल में भी बिता चुकी हैं. फिलहाल वो बाहर हैं. केस में उनके भाई शौविक चक्रवर्ती भी जेल गए थे, बाद में उन्हें भी जमानत मिल गई थी.

 

MSP से 15 फीसदी ऊंचे दाम पर कपास, ‘सफेद सोना’ ने 3 साल की ऊंचाई को छुआ

0

मुंबई, 5 मार्च 2021

सफेद सोना यानी कपास की खेती इस साल किसानों के लिए फायदे का सौदा साबित हुई है। वैश्विक बाजार में रूई के दाम में आई तेजी के बाद देश में कपास का भाव इसके एमएसपी से 15 फीसदी से ज्यादा तेज हो गया है और किसान अब सरकारी एजेंसी की खरीद के मोहताज नहीं रह गए हैं। कॉटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अतुल गणत्रा कहते हैं कि सफेद सोना वाकई इस साल किसानों के लिए सोना बन गया है।

सरकार ने कपास (लंबा रेशा) का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 5,825 रुपये प्रति क्विंटल और मध्यम रेशा वाली कपास का एमएसपी 55,15 रुपये प्रति क्विंटल तय किया है। कारोबारियों ने बताया कि गुजरात में कपास का भाव 6,500 रुपये प्रति क्विंटल है।

गणत्रा ने आईएएनएस को बताया कि बीते तीन साल के बाद रूई में इतनी बड़ी तेजी आई है, जिससे अगले सीजन में कपास की खेती के प्रति किसानों की दिलचस्पी निस्संदेह बढ़ेगी और कपास की बुवाई के रकबे में पिछले साल के मुकाबले कम से कम 10 फीसदी का इजाफा होगा।

रूई का भाव अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर बीते 25 फरवरी को 95.57 सेंट प्रति पौंड तक उछला था, जो 11 जून 2018 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है, जब आईसीई पर रूई का भाव 96.49 सेंट प्रति पौंड तक चढ़ा था।

हालांकि रूई का भाव इस साल के ऊंचे स्तर से टूटकर गुरुवार को 88 सेंट प्रति पौंड पर आ गया फिर भी रूई का भाव करीब तीन साल के ऊंचे स्तर पर बना हुआ है।

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि रूई का भाव काफी ऊंचा हो गया था, जिसके बाद मुनाफावसूली हावी होने के कारण कपास के दाम में गिरावट आई है, हालांकि फंडामेंटल अभी भी मजबूत है।

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में रूई के दाम में बीते एक सप्ताह के दौरान आई गिरावट के बाद भारतीय बाजार में में भी नरमी आई है।

अतुल गणत्रा ने बताया कि जब वैश्विक बाजार में कॉटन 95 सेंट के ऊपर चला गया था, तब भारतीय कॉटन यानी रूई और अमेरिका के कॉटन के दाम में 14 सेंट का अंतर था जो अब घटकर सात सेंट रह गया है, जिससे निर्यात मांग जो बीते दिनों बढ़ी थी उसमें नरमी आ गई है। उन्होंने बताया कि कॉटन का भाव गुजरात में बीते दिनों जहां 47,000 रुपये प्रति कैंडी (एक कैंडी में 356 किलो) हो गया था, वहां अब घटकर 4,600 रुपये प्रति कैंडी पर आ गया है।

गणत्रा ने बताया कि फरवरी के आखिर तक भारत का काटन निर्यात 34 लाख गांठ (एक गांठ में 170 किलो) हो चुका था और व्यक्तिगत तौर पर उनका अनुमान है कि चालू सीजन में भारत से 60 लाख गांठ तक निर्यात करेगा, हालांकि एसोसिएशन का अनुमान अब तक 54 लाख गांठ ही है, लेकिन इस महीने होने वाली बैठक में सदस्यों के बीच विचार-विमर्श किया जाएगा।

कॉटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष के अनुसार, देश में रूई का उत्पादन

चालू कॉटन सीजन 2020-21 (अक्टूबर-सितंबर) में 360 लाख गांठ है, पिछले साल का बकाया स्टॉक 125 लाख गांठ और आयात 14 लाख गांठ को मिलाकर कुल आपूर्ति 499 लाख गांठ रहेगी, जबकि घरेलू खपत मांग 330 लाख गांठ और निर्यात 54 लाख गांठ होने के बाद 30 सितंबर 2021 को 115 लाख गांठ कॉटन अगले सीजन के लिए बचा रहेगा।

हालांकि कपड़ा मंत्रालय के तहत गठित कमेटी ऑनफ कॉटन प्रोडक्शन एंड कन्जंप्शन (सीओसीपीसी) के अनुसार, देश में चालू सीजन 2020-21 में कॉटन का उत्पादन 371 लाख गांठ रहने का अनुमान है, जिसमें से 28 फरवरी 2021 तक 294.73 लाख गांठ कॉटन की आवक हो चुकी थी।

स्वीडिश प्रधानमंत्री मोदी के साथ आज करेंगे वर्चुअल मुलाकात

0

नई दिल्ली, 5 मार्च 2021

स्वीडिश प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा के लिए 5 मार्च (शुक्रवार) को एक वर्चुअल बैठक करेंगे। बैठक के दौरान, दोनों नेता कोविड के बाद के युग में स्वीडन और भारत के बीच सहयोग को और मजबूत करने के तरीकों और टिकाऊ नवाचार साझेदारी पर चर्चा करेंगे।

लोफवेन ने कहा, “मैं भारत के साथ कल की शिखर वार्ता के लिए उत्सुक हूं। कम से कम इस बात पर चर्चा नहीं कि हम महामारी से लड़ने के लिए सहयोग को कैसे मजबूत कर सकते हैं और कोविड-19 के बाद अधिक लचीला, टिकाऊ और समान समाज का निर्माण कर सकते हैं। हम क्षेत्रों में कई पहल करेंगे। जैसे कि जलवायु, नवाचार और स्वास्थ्य सहयोग।”

द्विपक्षीय जुड़ाव के अलावा, बातचीत में क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों के आपसी महत्व के मुद्दों सहित कई प्रकार के विषय भी शामिल होंगे।

भारत में स्वीडन के राजदूत क्लास मोलिन ने कहा, स्वीडन और भारत हमेशा मजबूत भागीदार रहे हैं। 2018 में प्रधानमंत्री मोदी की स्वीडन यात्रा के बाद से नवाचार साझेदारी हमारे संबंधों के साथ-साथ स्वास्थ्य, परिवहन, दूरसंचार सहित कई क्षेत्रों में हमारे सहयोग के झंडे बन गए हैं।

उन्होंने कहा, हमारे करीबी संबंध, जो साझा मूल्यों और मानदंडों पर आधारित हैं, और मजबूत होते रहेंगे।

प्रधानमंत्री स्तर पर बातचीत के अलावा, भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मई-जून 2015 में स्वीडन का दौरा किया था और स्वीडन के राजा ने दिसंबर 2019 में भारत का दौरा किया था।

फाइजर वैक्सीन की पहली खुराक 11वें दिन से करती असर : शोध

0

सिडनी, 5 मार्च 2021

शोधकर्ताओं की एक टीम इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम (एसएआरएस-कोवी-2) के खिलाफ टीकाकरण के 11 दिन बाद एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया देने में फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन की एक खुराक पर्याप्त हो सकती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया में मोनाश विश्वविद्यालय के हेदी ई. ड्रमर सहित, टीके की दूसरी ‘बूस्टर’ खुराक एसएआरएस-कोवी-2 के खिलाफ टीके की प्रभावकारिता नहीं बढ़ा सकती है।

टीम ने अध्ययन के लिए प्लेसबो और प्रयोगात्मक समूहों में दिन 1 से 111 तक फाइजर-बायोएनटेक तीसरे चरण के परीक्षण डेटा की फिर से जांच की।

उन्होंने मॉडर्न के वैक्सीन परीक्षण के आंकड़ों को भी देखा। हालांकि, मॉडर्न परीक्षण में कोविड-19 मामलों की संख्या पहले कुछ हफ्तों में कम थी, उनके पास इसका आकलन करने के लिए पर्याप्त डेटा नहीं था। इसके बजाय, मॉडर्ना के परीक्षण डेटा का उपयोग फाइजर के परीक्षण डेटा के साथ तुलनात्मक उद्देश्यों के लिए किया गया था।

उन्होंने 11 वें दिन से 28 दिन तक टीकाकरण की प्रभावकारिता का अध्ययन किया और दूसरे दिन दिए गए दूसरे टीके की खुराक की प्रभावकारिता की तुलना दिन 111 तक की।

समाचारों के अनुसार, पहले टीके की खुराक ने संकेत दिया कि दूसरी खुराक देने से पहले एंटीबॉडी को विकसित करने में मदद मिली।

ममता के ‘खेला होबे’ वाले बयान पर बीजेपी का पलटवार, कहा- निष्पक्ष चुनाव नहीं होने देना चाहती TMC

0

नई दिल्ली, 4 मार्च 2021

बंगाल में वोटिंग की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। एक ओर ममता बनर्जी टीएमसी के साथ अपनी सत्ता बचाने में जुटी हैं, तो वहीं दूसरी ओर बिहार की जीत से उत्साहित बीजेपी को इस बार अच्छी सीटों के साथ सत्ता में आने की उम्मीद है। हाल ही में सीएम ममता ने हुबली में एक रैली की थी। उस दौरान उन्होंने कहा था कि ‘खेला होबे’ यानी खेल होगा। जिस पर अब बीजेपी ने पलटवार किया है।

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के मुताबिक हुबली में ममता बनर्जी ने कहा कि हम तो खेला करेंगे, खेला क्या होता है मतलब पोलिंग बूथ पर कब्जा, मतदाताओं को डराना, निष्पक्ष चुनाव न होना। ये सब खेला करने की कोशिश TMC करना चाहती है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने सारी जानकारियों से चुनाव आयोग को अवगत कराया। उन्होंने आगे कहा कि एक षड्यंत्र करते हुए 128 नगर पालिका और नगर निगम में TMC के नेताओं को प्रशासक नियुक्त कर दिया, संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। उन्होंने राजनीतिक कार्यकर्ताओं को प्रशासक बनाकर सारी नगरपालिकाओं को अपने अंडर ले रखा है। इससे लगभग 2 करोड़ लोग प्रभावित होंगे।

TMC विधायक ने भी कही खेल की बात

वहीं एक रैली को संबोधित करते हुए टीएमसी विधायक हमीदुल रहमान ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने कहा था कि जिसका नमक खाते हैं, उसे धोखा नहीं देते। चुनाव के बाद हम गद्दारों से मिलेंगे और उनके साथ खेल होगा। हम दोबारा से ममता दीदी को सीएम के रूप में देखना चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि इस महागठबंधन (कांग्रेस, लेफ्ट) को वोट देना, भाजपा को रास्ता देने के समान है। हमीदुल के इस बयान के खिलाफ भी बीजेपी ने चुनाव आयोग में शिकायत की है।